देश में कोरोना महामारी को देखते हुए बालाजी धाम का डिजिटलीकरण करने में सहयोग करें। बहुत कम घर से निकलें और वेबसाइट के माध्यम से ऑनलाइन दर्शन और प्रसाद व दान का लाभ उठाएं !

सावन में हनुमान पूजा के लाभ

सावन के महीने में हनुमान जी की पूजा करने से हर कष्ट दूर हो जाते है.हनुमान जी एकादश रुद्र अवतार हैं, वे भगवान शंकर के

ग्यारहवें अवतार है अगर बजरंग बली को प्रसन्न करना है और साथ ही शिव जी का आशीर्वाद पाना है

तो श्रावण महीने में हनुमान जी का पूजन जरूर करना चाहिए.

सावन माह में उपलब्ध विशेष पूजा सर्विस

सावन सामूहिक पूजा

₹ 501

सावन सोमवार पूजा

₹ 701

बेल पत्र अर्पित करें

₹ 501

सावन शिवरात्रि पूजा

₹ 1001

दारिद्र्य दहन शिव स्तोत्र पाठ

श्रावण मास में इस शिव स्तोत्र का फल

  • शीघ्र माँ लक्ष्मी की प्राप्ति होती है !
  • धन-वैभव में वृद्धि होती है !
  • दरिद्रता का संकट हमेशा के लिए समाप्त होता है !
  • आर्थिक परेशानियों से मुक्ति मिलती है !
  • सामाजिक सम्मान में बढ़ोतरी होती है !

सावन का पावन महीना शिव को बहुत प्रिय है। जो भक्त अपनी श्रद्धा से भगवान शिव की पूजा करता है या करवाता है तो भगवान शंकर बहुत जल्द प्रसन्न हो जाते है सावन में दारिद्र्य दहन शिवस्तोत्र के जप से पूरी पवित्रता और विधि-विधान से शिवलिंग की पूजा-अर्चना करने से व्यक्ति के जन्म की दरिद्रता हमेशा के लिए समाप्त हो जाती है। दारिद्र्य दहन शिवस्तोत्र के पाठ को शास्त्रों में गरीबी दूर करने के लिए शीघ्र धन प्राप्ति का साधन बताया गया है।

नोट :- दारिद्र्य दहन शिव स्तोत्र पाठ एक योग्य ब्राह्मण आचार्य जी द्वारा पूरे विधि-विधान से किया जाएगा ताकि आप और आपके परिवार की दरिद्रता का नाश हो और माता लक्ष्मी का वास हो, सभी मंत्रों का जाप और अभिषेक किया जाएगा !

₹ 3100

महामृत्युंजय जाप

महामृत्युंजय जाप के लाभ

  • बल व बुद्धि से शक्तिशाली होने का आर्शीवाद प्राप्त होता है !
  • विपत्तियों से दुरी होती है !
  • आशंकाओं को समग्र रूप से ठीक करता है !
  • जीवन में सुख -समृद्धि का वास होता है !
  • दीर्घायु का आशीर्वाद प्राप्त होता है !

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार यदि कोई व्यक्ति ग्रहों की पीड़ा से पीड़ित है या किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित है तो इस मंत्र की शक्ति उसके इस दुख से बाहर आने का मार्ग प्रशस्त करती है ! यदि किसी व्यक्ति को धन और संपत्ति में लगातार नुकसान हो रहा है या वह किसी भूमि या कानूनी लड़ाई से परेशान है, तो उसके समाधान के लिए यह मंत्र मुख्य उपाय है ! यह मंत्र मनुष्यों के बीच हो रहे कलह -कलेश का नाश करने की क्षमता रखता है।

नोट :- पंडित जी पूरे विधि-विधान से मंत्रों का जाप करेंगे। अगर आप चाहते है तो पूजा का प्रसाद आपके घर पर भेजा जाएगा !

शिव रुद्राभिषेक

रुद्राभिषेक के शुभ फल

  • ग्रहों द्वारा निर्मित दोष समाप्त हो जाते हैं !
  • आर्थिक समस्याएं दूर होती हैं !
  • पारिवारिक रिश्तों में कुशलता !
  • शिक्षा नौकरी एवं व्यापार में सफलता मिलेगी !
  • स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां खत्म होंगी।

पुराणों के अनुसार समुद्र मंथन एक बहुत ही महत्वपूर्ण प्रसंग है। अमृत ​​की खोज में दूधिया सागर यानि समुद्र मंथन का मंथन श्रावण मास में हुआ था। मंथन के दौरान समुद्र से 14 अलग-अलग माणिक निकले। तेरह माणिकों को देवों और असुरों के बीच विभाजित किया गया था, हालांकि 14 वां माणिक अछूता रहा क्योंकि यह सबसे घातक जहर था जो पूरे ब्रह्मांड और हर जीवित प्राणी को नष्ट कर सकता था। भगवान शिव ने हलाहल पिया और विष को अपने कंठ में रख लिया। विष के प्रभाव से उनका कंठ नीला पड़ गया और वे नीलकंठ कहलाने लगे।

नोट :- भगवान शिव रुद्राभिषेक जल , दूध , फलों का रस , सरसो का तेल , चने की दाल , काले तिल , शहद मिश्रित गंगा जल , घी और कुमकुम केसर हल्दी से किया जायेगा ! तथा अगर आप चाहते है तो सूखा भोग , बाबा का भस्म , काला धागा ( हाथ में बांधने हेतु ) आपके घर पर भेजा जायेगा !

₹ 4100

  • घर बैठे ही कर सकते है सावन पूजा
  • अगर आप चाहते है तो आपके घर तक पहुंचाया जायेगा पूजा का प्रसाद
  • शारीरिक रूप से उपस्थित होने की नहीं है जरूरत
  • प्रतिष्ठित पंडित विधि-विधान से करते हैं पूजा
  • पूजा की तस्वीरें भी की जाती हैं साझा
  • अनुष्ठान से पूर्व कराया जाता है संकल्प